Newsraftaar

गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी के लिए प्रचार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धांधुका में एक चुनावी रैली को संबोधित किया. पीएम मोदी ने बीआर अबंडेकर के बहाने कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा. आज बाबा साहेब की पुण्यतिथि है.

पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि एक परिवार ने बाबा साहेब और सरदार पटेल के साथ बहुत अन्याय किया है. उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस में पूरी तरह पंडित नेहरू की ही चलती तो बाबा साहेब संविधान समिति में शामिल तक नहीं हो पाते, यहां तक कि कांग्रेस ने कभी भी बाबा साहेब का भारत रत्न देने की बात सोची तक नहीं.

चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी की कोशिश है कि गुजरात का युवा तकनीकी से जुड़े और उनके लिए ज्यादा से ज्यादा शैक्षणिक संस्थान खड़े किए जाएं. बीजेपी शासन में राज्य की कानून व्यवस्था में सुधार हुआ. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने गुजरात में टैंकरों के नाम पर चल रहे भ्रष्टाचार को पूरी तरह से खत्म करने का काम किया है.

चुनाव बाद में, पहले मानवता
पीएम मोदी ने कहा कि जब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में ट्रिपल तलाक पर हलफनामा दिया था तो अखबारों में छपा कि मोदी यूपी चुनाव की वजह से इस मुद्दे पर चुप हैं, लोगों ने मुझसे कहा कि इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोलना, वरना चुनाव हार जाएंगे. पीएम मोदी ने कहा कि इस मुद्दे पर चुप नहीं रह सकता, सब कुछ चुनाव से तय नहीं होता. ट्रिपल तलाक का मुद्दा महिलाओं के अधिकारों से जुड़ा है और चुनाव बाद में आते हैं, पहले मानवता आती है.

कांग्रेस ने मंदिर को चुनाव से जोड़ा
राम मंदिर के मुद्दे पर बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि चुनाव के बीच अब कांग्रेस भी खुद को राम मंदिर से जोड़ रही है, लेकिन उन्हें राष्ट्र की चिंता नहीं है. सुप्रीम कोर्ट में मंदिर मसले की सुनवाई पर पीएम मोदी ने कहा कि कल कपिल सिब्बल बाबरी मस्जिद के पक्षकारों की तरफ से बोल रहे थे, यह उनका काम है, इससे शिकायत नहीं है. लेकिन क्या उन्हें 2019 तक सुनवाई टालने की मांग करनी चाहिए, क्या कांग्रेस की ओर से राम मंदिर मुद्दे को चुनाव तक टालने की कोशिश की जा रही है.