rooh afza sharbat

रूह अफजा, गुलाब की पंखुड़ियों से बना यह शरबत लोगों को बहुत पसंद आता है. इसे मुख्यत: रमजान के दिनों बहुत पिया और पिलाया जाता है. गर्मी में रूह अफजा का शरबत बनाकर पीने से पूरे शरीर में तरावट आ जाती है.

एक नज़र
रेसिपी क्विज़ीन : इंडियन
कितने लोगों के लिए : 8 – 10
समय : 15 से 30 मिनट
मील टाइप : वेज

आवश्यक सामग्री
30-40 गुलाब की पंखुड़ियां
आधा किलो चीनी
आधा कप पानी
चुटकीभर साइट्रिक एसिड (नींबू सत, नींबू फूल, टार्टरिक एसिड)

विधि
– सबसे पहले पंखुड़ियों को अच्छे से धोकर साफ कर लें.
– अब सभी पंखुड़ियों का पेस्ट बनाएं.
– मीडियम आंच में एक पैन में पानी, चीनी और पंखुड़ियों का पेस्ट डालकर कड़छी से लगातार चलाते रहें.
– पेस्ट के हल्का गाढ़ा होते ही साइट्रिक एसिड मिलाएं ताकि शरबत बढ़िया बना रहे.
– जब यह पूरी तरह से यानी शरबत की तरह गाढ़ा बनकर तैयार हो जाए तब आंच बंद कर दें.
– शरबत को ठंडाकर एक बर्तन में छन्नी की मदद से छान लें.
– आप इसे एक कांच की बोतल में डालकर लगभग छह महीने तक स्टोर कर सकते हैं.

नोट:
– अगर जरूरत महसूस हो तो आप एक छोटा चम्मच गुलाब एसेंस का भी यूज कर सकते हैं.
– अगर आप और भी ज्यादा गहरा रंग चाहते हैं तो आधा छोटा चम्मच लाल फूड कलर डाल सकते हैं.