cockroach oxcygen

सरकारी और निजी अस्पतालों में आए दिन लापरवाही के कारण मरीजों की मौत हो जाती है. ताजा मामला नासिक के आडगाव मराठा विद्या प्रसारक समाज अस्पताल का है. यहां वेंटिलेटर में रखे गए मरीज की मौत आर्टिफीशियल ऑक्सीजन पाइप में कॉक्रोच फंसने के कारण हो गई.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पांच दिन पहले 42 वर्षीय अंजली बैरागी ने जहर खा लिया था. जिसके बाद उन्हें मराठा विद्या प्रसारक समाज अस्पताल में भर्ती किया गया.

cockroach

सोमवार रात अचानक उनकी सेहत बिगड़ गई. डॉक्टर ने उनके बेटे को तत्काल दवाई लेने के लिए भेजा. जब उनका बेटा वापस लौटा तो डॉक्टरों ने बताया कि अंजली को वेंटिलेटर पर रखा गया है.

जब अंजली के रिश्तेदार वेंटिलेटर पहुंचे तो उनके होश उड़ गए. उन्होंने देखा कि ऑक्सीजन पाइप में कॉक्रोच फंसा हुआ है. परिजनों का कहना है कि जब हमने डॉक्टर से कॉक्रोच मिलने की बात कही तो वो जवाब नहीं दे पाए.

इस बीच अंजली ने दम तोड़ दिया. परिजनों का आरोप है कि अंजली बार-बार ऑक्सीजन लेने में दिक्कत होने की बात कहती थी, लेकिन डॉक्टर इसे नजरअंदाज करते रहे. परिजनों ने अस्पताल और डॉक्टर पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है.