ऑनर किलिंग: दूसरी जाति के लड़के से प्यार कर बैठी बेटी, पिता ने उतार दिया मौत के घाट | News Raftaar

इस प्रेम प्रसंग को लेकर बाप और बेटी के बीच काफी बहस हुई और गुस्से में आकर रेड्डी ने अपनी बेटी का गला घोंट दिया. जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई.

आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले में ‘ऑनर किलिंग’ का एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जहां एक पिता ने दूसरी जाति के लड़के से प्रेम संबंध रखने वाली अपनी बेटी को मौत के घाट उतार दिया. हालांकि उसने पहले वारदात को छिपाने की खातिर सबको बताया कि उसकी बेटी की मौत हार्ट अटैक से हुई है. लेकिन उसका झूठ ज्यादा चल नहीं पाया और सच सामने आ गया.

वारदात थल्लूर प्रखंड के कोट्टापलेम गांव की है. जहां के. वेंका रेड्डी नामक एक शख्स ने बीते सोमवार को अपनी 20 वर्षीय बेटी के. वैष्णवी की गला घोंटकर हत्या कर दी. इसके बाद उसने अपने रिश्तेदारों और ग्रामीणों को बताया कि दिल का दौरा पड़ने के कारण उसकी बेटी की मौत हुई है. गोपनीय सूचना मिलने पर पुलिस गांव पहुंची.

पुलिस ने वैष्णवी का शव कब्जे में लेकर छानबीन शुरू की. जांच के दौरान पुलिस को लड़की की गर्दन पर चोट के निशान मिले. पुलिस को तभी शक हो गया. लेकिन पुलिस अपनी शंका को दूर करना चाहती थी. लिहाजा पहले लड़की की लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. जिसमें गला दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हो गई. थल्लूर पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया.

पुलिस के मुताबिक ओंगोल शहर के एक निजी कॉलेज में बी.कॉम द्वितीय वर्ष में पढ़ने के दौरान वैष्णवी को अपने क्लासमेट से प्यार हो गया था. लेकिन वह दूसरी जाति से ताल्लुक रखता था. वह लिंगसमुद्रम गांव का रहने वाला था. करीब दो साल से इनके बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था. 8 माह पहले लड़की के घरवालों को इस बात की भनक लगी तो उन्होंने बेटी को धमकाया.

मगर बीती 2 फरवरी को वैष्णवी ने अपना घर छोड़ दिया. वह अपने प्रेमी के साथ भागकर माकार्पुरम में जाकर रहने लगी. वैष्णवी के माता-पिता वहां भी पहुंच गए और उसे वापस घर ले आए. इसके बाद बाप और बेटी के बीच काफी बहस हुई और गुस्से में आकर रेड्डी ने अपनी बेटी का गला घोंट दिया. जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई. अब पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है.