विधायक की बेटी को अश्लील फिल्म दिखा गैंगरेप करते थे बाप-बेटे

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के गृहनगर पटियाला में एक दलित महिला के साथ हुए गैंगरेप केस के बाद मानसा में भी इसी तरह की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. यहां एक कारोबारी और उसके बेटे पर पूर्व विधायक की नाबालिग बेटी को अश्लील फिल्म दिखाकर गैंगरेप करने का आरोप लगा है. पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

जानकारी के मुताबिक, पंजाब के मानसा में एक पूर्व विधायक के निधन के बाद उनका परिवार गरीबी में जीवन जी रहा है. घर की आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से उनकी बेटी दूसरों के घरों में काम करती है. इसी सिलसिले में वह आत्मा सिंह के घर गई थी. वहां उसके बेटे ने पीड़िता के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया. इतना ही नहीं ब्लू फिल्म भी दिखाई.

पीड़िता का आरोप है कि इसके बाद आरोपी मनदीप सिंह उसके साथ अक्सर रेप करने लगा. यह बात उसके पिता को पता चली, तो वह भी डरा धमका कर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने लगा. इससे दुखी होकर पीड़िता ने एक दिन अपनी मां को आपबीती सुना दी. इसके बाद दोनों मां-बेटी थाने पहुंची. पुलिस ने उनकी तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर लिया.

पुलिस के मुताबिक, पीड़िता की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है. पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया है. इस मामले की जांच की जा रही है. थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों आरोपी कपड़ा व्यापारी हैं. उन दोनों की पीड़िता और उसकी मां से पहले से जान पहचना है. आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा.

बताते चलें कि पटियाला में भी एक दलित महिला के साथ हुए गैंगरेप के मामले ने पंजाब पुलिस की कारगुजारी पर सवाल खड़े कर दिए हैं. हालांकि पुलिस ने महिला के पति की शिकायत के आधार पर छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. महिला के पति ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि वह जानबूझकर मामले की छानबीन में देरी कर रही है.

गैंगरेप के सभी आरोपी राजनीतिक तौर पर प्रभावशाली हैं. महिला के परिजनों का आरोप है कि आरोपी खुले घूम रहे हैं. पुलिस उनको जानबूझकर गिरफ्तार नहीं कर रही है. यह मामला बीते शुक्रवार का है. 36 वर्षीय दलित महिला घर पर अकेली थी. महिला का पति दुबई में रहता है और हाल ही अपने गांव लौटा था. वारदात के दिन वह घर पर नहीं था.

पुलिस को दी गई शिकायत के मुताबिक, महिला को पहले घर से अगवा किया गया. उसे मारा पीटा गया. इसके बाद में एक आटे की मिल में कथित तौर पर छह आरोपियों ने बारी-बारी से उसका बलात्कार किया. पीड़ित महिला को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. गैंगरेप के आरोपी पीड़ित महिला के गांव में ही रहते हैं.

उन पर शंभू पुलिस स्टेशन में रेप और एसी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज है. आरोपियों के खिलाफ जातीय टिप्पणियां करने का आरोप भी लगाया गया है. एफआईआर में कहा गया है कि आरोपियों की उम्र 20 से 30 वर्ष के बीच है. उन्होंने महिला के घर में जबरन घुसकर हथियारों के बल पर उसका अपहरण किया. आरोपियों की पहचान की जा चुकी है.