आगरा: महिला पत्रकार से सरेराह छेड़खानी, फेसबुक पोस्ट के बाद हुई गिरफ्तारी
NewsRaftaar

अपराध के मामले में देश के अव्वल राज्य उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ आपराधिक घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रहीं. ताजा घटना में तो ऐसे अपराधों के खिलाफ आवाज उठाने वाली पत्रकार बिरादरी ही निशाना बन गई. ताजनगरी आगरा में एक स्थानीय महिला पत्रकार के साथ सरेराह छेड़खानी का मामला सामने आया है. इतना ही नहीं महिला हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करने के बाद भी किसी तरह की मदद नहीं मिली.

महिला पत्रकार ने इसके बाद खुद अपने फेसबुक पेज पर अपनी पीड़ा जाहिर की है. महिला एंकर का यह पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है. उनकी फेसबुक पोस्ट वायरल होने के बाद पुलिस जागी और FIR दर्ज किया. महिला हेल्पलाइन नंबर 1090 के अधिकारियों ने भी उनसे ड्यूटी में लापरवाही को लेकर माफी मांगी. घटना के चार दिन बाद सोमवार को आगरा पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

छेड़छाड़ की शिकार महिला एंकर ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि वह 25 जनवरी की रात भगवान टॉकीज से एमजी रोड की ओर जा रही थीं. इसी बीच बाइक सवार दो व्यक्तियों ने उनका पीछा किया और भद्दे इशारे किए और उनके साथ-साथ चलने लगे. आरोपियों ने पीड़िता के साथ बात करने की भी कोशिश की. आरोपियों ने पीड़िता एंकर का काफी दूर तक पीछा किया. पीड़िता के मुताबिक, आरोपियों की फोटो खींचने और पुलिस में शिकायत की धमकी देने का भी उन पर कोई असर नहीं हुआ.

अपनो पोस्ट में पीड़िता कुछ अहम मुद्दों पर सवाल उठाती हुए लिखती हैं, “मैं इन दोनों की गाड़ी के नम्बर की फोटो खींचने लगी तो पीछे बैठा युवक बोला कि नम्बर फ़र्ज़ी है. फिर जब मैंने उसकी फोटो ली तो वो अलग अलग पोज़ देने लगा. जैसा कि आप फोटो में देख सकते हैं. शर्म और डर नाम की कोई चीज़ इनके चेहरे पर दिखाई नहीं दे रही. बात यहीं खत्म नहीं हुई. मैंने घर आकर महिला हेल्पलाइन नम्बर ‘1090’ पर फोन किया और अपनी कम्प्लेंट रजिस्टर करानी चाही, तो वहां मेरी बात सुनने के बाद बोला गया कि आपके पास कम्प्लेंट रजिस्टर का नम्बर आएगा. और आज 4 दिन बीत जाने के बाद भी कोई कम्प्लेंट रजिस्टर नहीं मिला जहां मुझे ‘महिला हेल्प लाइन’ सेवा नाकाम होती दिखी.”

छेड़छाड़ की शिकार महिला एंकर ने अपने फेसबुक पोस्ट में पुलिस, महिला हेल्पलाइन और सरकार सभी पर सवाल उठाए हैं. वह लिखती हैं, “ये युवक तो चले गए बेशर्मों की तरह, पर मुझे शर्म आई हमारी महिला हेल्प लाइन पर, हमारी पुलिस पर, सरकार पर, जिसका कोई ख़ौफ़ इन बेशर्म लड़कों की शक्ल पर दूर दूर तक नज़र नहीं आ रहा.

उन्होंने आगे लिखा है, “इन्होंने मेरे साथ जो किया वो गुनाह इतना बड़ा नहीं था. पर ऐसी मानसिकता वाले ये लड़के जिन्हें पुलिस का कोई ख़ौफ़ नहीं यही लड़के आज अगर किसी को छेड़ रहे हैं तो कल किसी का बलात्कार भी इसी बेशर्मी से करके किसी लड़की की ज़िंदगी बर्बाद कर देंगे. नेता पहुंच जाएंगे कैंडल जलाकर अपना चेहरा चमकाने के लिए और हाथ पर हाथ रख कर बैठी रह जाएगी ये नाम की महिला हेल्प लाइन, पुलिस और सरकारें.”

महिला पत्रकार की फेसबुक पोस्ट वायरल होने के बाद चारों तरफ से आलोचना होने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर आईपीसी की धारा 354डी के तहत केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने आरोपियों की पहचान कोतवाली के तिलक बाजार के रहने वाले उबेद और कोतवाली के ही फुलट्टी के रहने वाले साबाद के रूप में की है. घटना के वक्त आरोपी जिस स्कूटी पर सवार थे, पुलिस ने उसे भी जब्त कर लिया है.